what is difference between Logistics and SCM-Hindi

What is difference between Logistics and SCM-Hindi 

Logistics और Supply Chain Management में क्या अंतर है?
www.businessesmanagement.com

Logistics (Supply Chain Management) आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन का एक बड़ा हिस्सा है,जबकि supply chain management एक Overall और Contextual approach है।इसके बारे में इस तरह से जानते है। 

    Logistics पूछता है, “ग्राहक Product चाहता है। हम उन्हें कैसे Deliver करा सकते हैं? वहीँ दूसरी तरफ
    supply chain management पूछता है, “हम अपने ग्राहकों को अधिक मूल्य प्रदान कैसे करा सकते है और competition को बेहतर कैसे बना सकते है और supply chain प्रक्रियाओं को कैसे सुधार सकते हैं?”

    Logistics आपके Overall supply chain management Efforts के लिए महत्वपूर्ण हैं। आखिरकार, यदि आपकी कंपनी verbal रूप से आपके product को प्वाइंट से प्वाइंट बी तक ले जाने में सक्षम नहीं है तो ऐसा नहीं होगा की आपका व्यवसाय सफल नहीं हो पाएगा।

      लेकिन, supply chain management में आपके product को Deliver के आलावा बहुत अधिक शामिल है। इसमें Manufacturing, Storage, Delivery और Supply के Inter specific और स्पर्शनीय पहलुओं को बेहतर बनाना जैसे  शामिल है, जो आपके संगठन की उत्पादकता को अधिकतम करता है और आपके व्यवसाय को सही मायने में बढ़ाने में मदद करता है।

      Logistics Management Supply Chain Management का एक छोटा सा हिस्सा है जो एक कुशल तरीके से माल को प्रबंधन से संबंधित है।

        यद्यपि, यदि हम Supply Chain Management के बारे में बात करते हैं, तो यह एक व्यापक शब्द है जो कनेक्शन से तात्पर्य है, आपूर्तिकर्ताओं से अंतिम उपभोक्ता तक। इन दोनों अवधारणाओं के बीच लोग काफी हैरान हैं।

                                           

        Supply Chain Management के बीच के अंतर को समझना शुरू करते हैं।

        Logistics Management > संगठनके अंदर और बाहर के माल का  Movement और रखरखावको Integrated करने की processकरता है।

        Supply chain management> Supply chain activities के Coordination और Management को Supply chain Management के रूप मेंजाना जाता है।

        Logistics Management ग्राहकसंतुष्टि पे काम करता है। 


        Supply chain management > प्रतिस्पर्धात्मक लाभ के लिए काम करता है।
        • Logistics management supply chain management का एक Part है। 
        • supply chain management Logistics management का नया version है।

        Logistics management की परिभाषा। 

        Logistics प्रबंधन process जो माल, सेवाओं, सूचना और पूंजी की आवाजाही को एकीकृत करती है, और जब तक कि यह अपने अंतिम Consumer तक नहीं पहुंच जाती, इसे Logistics Management के रूप में जाना जाता है।
        इस प्रक्रिया के पीछे का उद्देश्य यह है की ग्राहक को सही मूल्य में सही जगह पर सही समय पर सही गुणवत्ता के साथ सही उत्पाद Provide करना है। Logistics  Activities को दो categories में विभाजित किया गया है:

        • Inbound Logistics: वे Activities है जो सामग्री की खरीद, हैंडलिंग, भंडारण और परिवहन करती  हैं
        • Outbound logistics:वे Activities है जो अंतिम Consumer के लिए collection, Maintenanceऔर Delivery करता है। 
        इसके अलावा, Other activities भी है जैसे Warehousing, Protective packing, Order fulfillment, stock control, demand and supply, stock management इन सब के बीच संतुलन बनाए रखना हैं और इसके Cost और समय, High quality products आदि में बचत का भी ध्यान रखा जाता है। 

        supply chain management की परिभाषा। 

        supply chain managemen (SCM) कच्चे माल से तैयार माल तक के modification और Interconnection गतिविधियों की एक श्रृंखला है, जब तक कि यह माल अंतिम उपयोगकर्ता तक नहीं पहुंच जाता।

        यह कई संगठनों के प्रयासों का परिणाम है जिन्होंने गतिविधियों की इस Chain को सफल बनाने में मदद की।

        इन संगठनों में कई company शामिल हो सकती हैं जिनके साथ  Suppliers, manufacturers, Wholesalers, Retailers और Consumers की तरह काम कर रहे होते है । गतिविधियों में एकीकरण, Sourcing, Purchase, production, testing, Logistics, ग्राहक सेवा, performance measurement आदि supply chain management  में शामिल होते हैं। 


        आप ये भी देखें :
        अधिक जानकारी के लिए Home पेज पर जाए और Menu में  देखें।


        Share Anywhere

        Leave a Reply

        Your email address will not be published. Required fields are marked *