What is stock market

What is stock market? । शेयर बाज़ार क्या है-article-01

What is stock market?- शेयर बाजार (Share Market) जैसा कि नाम से ही पता चल रहा है कि शेयर का बाज़ार ठीक समझे है आप। ठीक उसी प्रकार जैसे सब्जी बाजार वहाँ सब्जी किसान लेकर बाजार में जाते है यहाँ कंपनी अपना शेयर लेकर बाजार जाते है।

अब इसमे फर्क देखने को मिल सकता है आपको सब्जी का बाजार इंडिया में या राज्य में या जिला में या गांव में कई सारी हो सकती है लेकिन शेयर का बाजार India में दो ही है । पहला (NSE) National Stock exchange और दूसरा (BSE) Bombay stock exchange. 

  • Share बाजार में निवेश के कई तरीके है। जैसे शेयर, बॉन्ड्स, डिबेंचर, म्यूचअल फंड,।प्रत्येक प्रत्येक प्रकार के निवेश के लाभ तथा उधेश्य अलग अलग होते है। निवेश के इन तरीको में शेयर बाजार में किया गया निवेश सर्बधिक लोकप्रिय और आम है ।आजकल तो इश्का चलन बहुत तेजी से बढ़ रहा है।
  • अगर शेयर को हिंदी में अनुबाद करे तो इसको- बाटना कहते है।वास्तव में यह प्रोसेस बाटने का ही होता है।दरअसल शेयर खरीदना मतलब किसी कंपनी में अपना भागीदारी खरीदने का तरीका है और हिस्सदारी बनाने के तरीके है। इस प्रकार के निवेश में कंपनी से जुड़ी फायदे में से आपको फायदा मिलता है तो दूसरी तरफ कंपनी से जुड़ी घाटे में आप को घाटे का सामना झेलना पड़ेगा।

 

  • कंपनी के शेयर खरीदना तथा बेचना निवेश की गतिविधियां है वह निवेशक जो किशी कंपनी का शेयर खरीद लेता है तब वो उस कंपनी का शेयर होल्डर कहलाता है। दूसरे शब्दों में शेयर की खरीदारी को equity की खरीदारी भी कहा जाता है।तो यदि आप शेयर की जगह अगर equity और Scrips सुने तो भर्मित होने की जरुरत नहीं है। क्योंकि तीनो का अर्थ एक ही है ।शेयर को हमेशा कंपनी के साथ जोड़कर देखा जाता है

शेयर की खरीद और बेचने का प्रोसेस। 

शेयर की खरीद और बिक्री दो तरीको से की जाती है। कंपनी स्टॉक एक्स्चेंज में रजिस्टर होती है और इनके शेयर स्टॉक एक्सचेंज बेचता है। 
अब आप शेयर ब्रोकर के माध्यम से स्टॉक एक्सचेंज से खरीद या बेच सकते है या डायरेक्ट डिजिटल उपकरण के माध्यम से डायरेक्ट स्टॉक्स एक्सचेंज से खरीद या बेच सकते है।
दूसरा तरीका की आप डायरेक्ट कंपनी से भी शेयर खरीद सकते है जब कंपनी पहली बार अपना शेयर लाती है तो निवेशकों को खरीदने का मौका उपलब्ध कराती है उसकी (IPO) आईपीओ एनसीएल पुब्लिक ऑफर (Initial Public Offer) कहते है। उसके बाद आने वाला सारा ऑफर पब्लिक ऑफर कहलाते है। 

निवेशकों को खरीदने के लिए परस्तुत किये जाने वाले शेयर या तो कंपनी द्वारा जारी किए गए नए शेयर हो सकते है या कंपनी अपने हिस्से का शेयर का कुछ भाग पबलिक के लिए प्रस्तुत करती है। इस प्रकार शेयर कंपनी द्वारा आम निवेशक से पूजी उगाहने का एक ओजार है।


 

Share Anywhere

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *